केंद्र सरकार स्कीम

Mukhyamantri Rajshri yojana 2022 : मुख्यमंत्री राजश्री योजना की पूरी जानकारी :

परिचय :

नमस्कार दोस्तो । आपका एक बार फिर से बहुत बहुत स्वागत है हमरी नयी पोस्ट Mukhyamantri Rajshri yojana 2022 मे आज हम आपको बताने वाले है Mukhyamantri Rajshri yojana 2022 कितनी लाभदायक योजना है आपके लिए जिससे आप ले सकते है. पूरे 50,000 का फायदा ओर साथ ही मे जानेंगे Mukhyamantri Rajshri yojana 2022 के लिए आवेदन कैसे कर सकते है । ओर भी बहुत सी जरूरी जानकारीयो के लिए पोस्ट को पूरा पढे ।

mukhyamantri rajshri yojana
mukhyamantri rajshri yojana

Mukhyamantri Rajshri yojana क्या है :

राजस्थान सरकार  की राजश्री योजना  एक ऐसी योजना है जो बेटियों के भविष्य के लिहाज से सरकार ने बनाई है. राजस्थान में इस योजना mukhyamantri rajshri yojana Rajasthan की 2016 मे शुरू की गयी थी . मगर साल दर साल इस योजना में जो भी कमियां थी उन्हें दूर करके इस योजना को बेहतर बनाया गया है.

इस योजना से राजस्थान के करोड़ों परिवारों को इसका सीधा लाभ मिल रहा है. सरकार की योजना के माध्यम से बालिका को 6 किश्तों में सरकार 50 हजार रुपये की सहायता राशि देती है जो उसकी जन्म से लेकर 12वीं कक्षा तक अलग-अलग किश्तों के माध्यम से दी जाती है. सरकार की इस योजना में एक विशेष नियम यह है कि इस योजना की पहली और दूसरी किश्त लेने वाली बेटियों को ही बाकी की 4 किश्ते दी जाती है.

राजस्थान सरकार की राजश्री योजना का लाभ उसी परिवार की बेटी को मिलेगा जिसके पास राजस्थान सरकार का राजस्थान जनआधार कार्ड योजना का कार्ड होगा. सरकार ने अपने आदेशों में यह साफ किया है कि जिस भी परिवार को इस योजना का लाभ लेना होगा उस परिवार के पास यह कार्ड होना अनिवार्य है.

यह भी पढे —

Deen Dayal Upadhyaya Gram Jyoti Yojana : दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना की जानकारी

किस प्रकार से मिलेगा योजना का पैसा :

इस योजना का पैसा देने के लिए सरकार ने 6 किस्तों का फैसला किया है . जिसमे बेटी के जन्म से लेकर 12 वी कक्षा तक 6 आसान किस्तों मे मिलेगा । जिसमे बेटी के जन्म से लेकर 12वी तक की पढ़ाई का खर्च जो की लगभग 50000 रुपए होता है सरकार के द्वारा दिया जाता है ।

1- पहली किस्त बेटी के जन्म के समय 2500 रूपये

2-दूसरी किस्त  1 वर्ष का टीकाकरण होने पर 2500 रूपये

3-तिसरी किस्त  पहली कक्षा में प्रवेश लेने पर 4000 रूपये

4-चोथी किस्त  कक्षा 6 में प्रवेश लेने पर 5000 रूपये

5- पाँचवी किस्त 10 वीं कक्षा में प्रवेश लेने पर 11000 रूपये

6-छटी किस्त  कक्षा 12 पास करने पर 25000 रुपए

मुख्यमंत्री राजश्री योजना का उद्देश्य

मुख्यमंत्री राजश्री योजना का मुख्य उद्देश्य समाज में बालिकाओं के प्रति सकारात्मक सोच विकसित करना है। जिससे कि बालिकाओं का अच्छा विकास सुनिश्चित किया जा सके। इसके अलावा इस योजना के माध्यम से बालिकाओं के पालन, शिक्षण व स्वास्थ्य के मामले में होने वाले लिंक भेद को रोकने एवं बालिकाओं को बेहतर शिक्षा व स्वास्थ्य भी सुनिश्चित किया जाएगा।

यह भी :

यह योजना संस्थागत प्रवास को बढ़ावा देकर मातृ मृत्यु दर में भी कमी लाने में कारगर साबित होगी। इसके अलावा इस योजना के माध्यम से बालिका शिशु मृत्यु दर में कमी आएगी एवं लिंगानुपात में सुधार आएगा। मुख्यमंत्री राजश्री योजना बालिका के विद्यालयों में नामांकन एवं ठहराव भी सुनिश्चित करेंगी एवं बालिकाओं को समाज में समानता का अधिकार प्रदान करेगी।

योजना के लिए पात्रता क्या है :

1-वह सभी बालिकाएं जिनका जन्म 1 जून 2016 या फिर इसके पश्चात हुआ है उनको इस योजना का लाभ प्राप्त प्रदान किया जाएगा।

2-लाभार्थी के माता पिता के पास आधार अथवा भामाशाह कार्ड होना अनिवार्य है। यदि प्रथम किस्त के समय लाभार्थी के माता-पिता के पास आधार या भामसाह कार्डनहीं होता है तो उस स्थिति में प्रथम किस्त का लाभ संस्थागत प्रसव के आधार पर प्रदान कर दिया जाएगा। परंतु दूसरी किस्त का लाभ लेने से पहले आधार एवं भामाशाह कार्ड की प्रति उपलब्ध करवाना आवश्यक है।

3-केवल राजस्थान के मूल निवासी ही इस योजना का लाभ प्राप्त करने के पात्र हैं। ऐसी सभी प्रसूति जिनका संस्थागत प्रसव राज्य के बाहर हुआ है एवं जननी सुरक्षा योजना का परिलाभ प्राप्त किया है तो बालिका के जीवित जन्म का प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना अनिवार्य है। इस स्थिति में इस योजना का लाभ मूल निवासी क्षेत्राधिकार वाले राजकीय चिकित्सा संस्थान से देय होगा। राज्य की बाहर की प्रसूता को इस योजना का लाभ नहीं प्रदान किया जाएगा।

4-प्रथम एवं द्वितीय किस्त का लाभ सभी संस्थागत प्रसव के जन्म लेने वाली बालिकाओं को प्रदान किया जाएगा।

5-तीसरी एवं पश्चातवर्ती किस्तों का लाभ एक परिवार में अधिकतम दो जीवित संस्थानों तक ही सीमित होगा।

6-इसके अलावा प्रथम दो किस्तों के अतिरिक्त अन्य किस्तों का लाभ केवल उन्हीं बालिकाओं को प्रदान किया जाएगा जिनके परिवार में जीवित संस्थानों की संख्या 2 से अधिक नहीं होगी।

सभी ध्यान से पढे—–

7-यदि माता-पिता की ऐसी बालिका की मृत्यु हो जाती है जिसे एक या दो किस्त का लाभ प्राप्त हो चुका है तो ऐसे माता-पिता की कुल जीवित संतानों में से मृत बालिका की संख्या कम हो जाएगी एवं ऐसे माता-पिता को यदि एक बालिका और जन्म लेती है तो वह लाभ की पात्र होगी।

8-प्रथम किस्त का लाभ प्राप्त करने के लिए राजकीय एवं चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा संस्थागत प्रसव हेतु अधिकृत निजी चिकित्सा संस्थानों में प्रस्ताव से जन्म लेना आवश्यक होगा।

9-दूसरी किस्त का लाभ चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मातृ शिशु स्वास्थ्य कार्ड या ममता कार्ड के अनुसार सभी टीका लगवाने के आधार पर प्रदान किया जाएगा।

10-सभी प्रथम किस्त के लाभवंती बालिकाओं को समेकित बाल विकास सेवा के माध्यम से आंगनवाड़ी केंद्र से जोड़ने का प्रयास भी किया जाएगा।

11- योजना की अगली किस्त अभी प्रदान की जाएगी जब लाभार्थी द्वारा पूर्व में अन्य किस्तों की राशि प्राप्त की गई हो।

12- बालिकाओं को इस योजना का लाभ केवल तभी प्रदान किया जाएगा जब वह राज्य सरकार द्वारा संचालित शिक्षण संस्थानों में प्रत्येक चरण में शिक्षारत है।

जरूरी दस्तावेज़ :

1- माता पिता का आधार कार्ड

2- माता पिता का भामसाह कार्ड

3- बेटी का आधार कार्ड

4- मोबाइल नंबर

5- ईमेल आईडी

6- स्वस्थ्य कार्ड

मुख्यमंत्री राजश्री  योजना के लिए आवेदन  प्रकीया :

1- सबसे पहले आपको आधिकारिक वेब साइट पर जाना होगा ।

वेब साइट पर जाने के लिए यहाँ क्लिक   करे ।

mukhyamantri rajshri yojana

2- अब आपको आवेदन फोरम दिख रहा होगा ।

3- इसमे अपनी सारी जरूरी जानकारी दर्ज करे ।

4- इसके बाद संबन्धित दस्तावेजो को अपलोड कर ले ओर सबमिट कर दे।

5- अब आपको 1 रेफरेंस नंबर मिलेगा इसको संभालकर रखे ।

6- यह नंबर आपको बाद मे आवेदन की स्थिति देखेने के काम आएगा ।

हमारी पोस्ट को ध्यान से पूरा पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद , आशा करते है की आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आयी होगी ऐसी ही जानकारी वाली पोस्ट पढ़ने के लिए हमारी वैबसाइट sarkarikist.com पर आना न भूले ।

धन्यवाद

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button